चीनी वैक्सीन लगाने वाले पाक नागरिक को खड़ी देशों ने किया बेन

0
18

हेल्थ रिपोर्ट/ एजेंसी/ इस्लामाबाद/ रियाद/ ई समाचार मीडिया/ देवेंद्र कुमार टाक : पाकिस्तान अपने जिगरी दोस्त चीन के साथ मिलकर भारत के साथ हमेशा ही दगाबाजी करते आया है, चीन की सहायता लेकर पाकिस्तान हमेशा भारत में आतंकवाद फैलाता आया है, चीन की ताकत के पीछे पाकिस्तान भारत को बर्बाद करने के नाकाम सपने देखता रहता है-चीनी वैक्सीन लगाने वाले पाक नागरिक को खड़ी देशों ने किया बेन

चीनी वैक्सीन लगाने वाले पाक नागरिक को खड़ी देशों ने किया बेन

पर इस बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और चाइना की दोस्ती  का परिणाम पाकिस्तान की जनता को भुगतना पड़ रहा है- इसी दोस्ती के कारण पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने चीन द्वारा मुफ्त में दी गई वैक्सीन अपने देश की जनता को लगवा दी हैं, परंतु समस्या अब यहां आन पड़ी है कि सभी खाड़ी देशों ने पाकिस्तान की जनता को बैन कर दिया है 

खाड़ी देशों का कहना है कि चीनी वैक्सीन नाकाम है, बेकार है, एक्सपर्ट की जांच में पाया गया है कि चीनी वैक्सीन से कोरोना जैसे वायरस पर कोई असर नहीं पड़ता है, इसीलिए सभी खाड़ी देशों ने मिलकर यह अंतरराष्ट्रीय आदेश जारी कर दिया है कि जिसने भी चीन की वैक्सीन लगवाई हैं वह लोग खाड़ी देशों में प्रवेश नहीं कर सकेंगे

अपने सबसे गहरे दोस्त इनकी वैक्सीन पाकिस्तान के लिए सिरदर्द बन गई है, सऊदी अरब समेत कई खाड़ी देशों ने चीनी टीके को मान्यता नहीं दी है, दूसरी तरफ इसे लगवाने वाले पाकिस्तानियों के आने पर भी रोक लगा दी है, ऐसे में उनके खाड़ी देशों में पढ़ने, काम्या हज के लिए जाने वाले लोगों की उम्मीदों को झटका लगा है

इससे पाकिस्तान के लोगों में जमकर गुस्सा बढ़ रहा है और वह इमरान सरकार सवाल पूछने लगे हैं कि ऐसे में खुद प्रधानमंत्री इमरान खान को मार्केटिंग के लिए उतरना पड़ा है, इसमें उनका साथ दे रहे हैं गृहमंत्री शेख रशीद अहमद, इमरान खाड़ी देशों से इस मुद्दे पर बातचीत कर रहे हैं और उन्हें चीनी टीके के फायदे गिनाने में जुट गए हैं

दरअसल चीन की दो वैक्सीन को डब्ल्यूएचओ से तो मंजूरी मिल चुकी है, लेकिन सऊदी अरब, यूएई समेत कई देश इन वैक्सीन को स्वीकार नहीं कर रही हैं, इस वजह से पाकिस्तानी नागरिकों के लिए बड़ी समस्या खड़ी हो गई है ऐसे में पीएम इमरान खान को उन्हें मनाने के लिए आना पड़ा है

पाकिस्तानी आवाम अपने प्रधानमंत्री इमरान खान से नाराज : पाकिस्तानी आवाम का कहना है कि जब दूसरे देश चीनी वैक्सीन को मंजूरी नहीं दे रहे तो पाकिस्तान के लिए क्यों खरीदी चीन की वैक्सीन- चीनी व्यक्तियों को लेकर नाराज पाकिस्तानी जनता अब इमरान सरकार से सवाल पूछ रही हैं इनका कहना है कि जब चीनी एक्शन को दुनिया के दूसरे देश मंजूरी दे ही नहीं रहे

तो इमरान सरकार ने यह व्यक्ति क्यों खरीदी पाकिस्तान ने कुछ डोजर उसकी उतनी के खरीदे हैं, अमेरिका या ब्रिटेन की वैक्सीन उनके पास नहीं है ऐसे में नाराजगी और बढ़ रही हैं, लोग इमरान सरकार पर आरोप लगा रहे हैं कि सरकार ने अपनी जनता के स्वास्थ्य को गंभीरता से नहीं लिया है और लोगों को बेवकूफ बना करके सबसे घटिया वैक्सीन लगवा दी है

आइए जानते हैं कि कौन सी खाड़ी देशों ने चीनी वैक्सीन को किया है बेन :

1. सऊदी अरब : चेन्नई दक्षिण को मंजूरी नहीं, हज में मुश्किल : सऊदी अरब ने चीन की वैक्सीन लगवाने वाले पाकिस्तानियों की एंट्री पर सख्त रोक लगा रखी है वह चीन वैक्सीन लगाने वाले सर्टिफिकेट स्वीकार नहीं कर रहा है, इससे पढ़ाई, कारोबार या नौकरी के अलावा हज के लिए सऊदी जाने वाले पाकिस्तानियों की परेशानी बढ़ गई हैं

2. बहरीन : 60 परसेंट लोगों को चीनी वैक्सीन, अब फाइजर : बहरीन में तो 60% लोगों को चीन की सीमा फार्म की वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं लेकिन जब संक्रमण नहीं रुका तो फाइजर की वैक्सीन लगाई जा रही हैं वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक जब बड़े पैमाने पर चीनी टीके लगाने के बावजूद मरीजों की संख्या बढ़ने लगी, तो टिका बदल दिया

3. यूएई :  चीनी टीके वालों को अब दूसरी वैक्सिंग लगा रहा है : संयुक्त अरब अमीरात ( यूएई) फायदे पहले चीनी के की एक खुराक लगवा चुके हैं, इससे पहले यूएई ने कहा था कि कई लोगों में सिनोफार्म कि दोनों दूध लेने के बावजूद एंटीबॉडी नहीं बनी है, अब उन्हें तीसरी दो दी जा रही हैं

4.सेशेल्स : हिंद महासागर में स्थित सेशेल्स की 65% आबादी को चीनी टीका लग चुका है, इसके बावजूद संक्रमण बढ़ रहे हैं,डब्ल्यूएचओ ने समय पर टीका लगवाने को इसकी वजह बताया, जबकि नए मरीजों में से 70% दोनों डोज लगवा चुके थे, अब सरकार तीसरा डोज लगवाने पर विचार कर रही हैं-चीनी वैक्सीन लगाने वाले पाक नागरिक को खड़ी देशों ने किया बेन

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक E-समाचार.इन (जनता  की  आवाज)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here