ग्रीष्म ऋतु में उदयपुर एनिमल फीड ने शहर में अब तक 1 हजार से ज्यादा परिंडे बांटे

0
34

उदयपुर, 23 अप्रेल। ग्रीष्म ऋतु में पशु-पक्षियों को पेयजल की होने वाली परेशानियों को देखते हुए इन दिनों उदयपुर  एनिमल  फीड संस्थान पूरे जोर-शोर से सराहनीय सेवाएं दे रहा है। अब तक संस्थान द्वारा पशुओं के लिए 200 से ज्यादा पानी की टंकी तथा पक्षियों के पानी के लिए 1 हजार से ज्यादा परिंडे निःशुल्क वितरित किए गए हैं-ग्रीष्म ऋतु में उदयपुर एनिमल फीड ने शहर में अब तक 1 हजार से ज्यादा परिंडे बांटे

ग्रीष्म ऋतु में उदयपुर एनिमल फीड ने शहर में अब तक 1 हजार से ज्यादा परिंडे बांटे


संस्थान के रवि भावसार और डिंपल भावसार ने बताया कि इन दिनों उनके संस्थान द्वारा ’प्रोजेक्ट प्यास’ पर कार्य प्रारंभ किया है और ‘एक कदम बेजुबानों की ओर’ थीम पर ग्रीष्म ऋतु में परिंडें और पानी की टंकियां निःशुल्क वितरित की जा रही है। उन्होंने बताया कि संस्थान शहर के गणगौर घाट, फतेह स्कूल, टाउन हॉल, नगर निगम और फतहसागर पर विशेष कैंप लगाते हुए एक हजार से ज्यादा परिंडे वितरित कर चुके हैं।


संस्थान के केतन कुमावत ने बताया कि शुक्रवार को उन्होंने जगदीश मंदिर चौक में 150 से ज्यादा परिंडे निःशुल्क वितरित किए वहीं शनिवार को सूचना केन्द्र परिसर में 15 परिंडे बांधे गए। परिंडों को बांधने के साथ ही इन्हें पानी से भरकर परिंदों की प्यास बुझाने का कार्य किया गया। कुमावत ने बताया कि देहली गेट पर मोहन वॉच सर्विस पर इनके संस्थान से संपर्क कर कोई भी व्यक्ति परिंडे प्राप्त कर सकता है। 


संडे फूड ड्राइव में होगी पशु-पक्षियों की फिडिंग:
संस्थान के दामिनी, सेजल, आयुष और कविश ने बताया कि संस्थान द्वारा हर रविवार को पशु-पक्षियों की फिडिंग का कार्य किया जाता है। उन्होंने बताया कि इस कार्य में शहर के कई युवा साथी जुड़े हुए हैं। ये रविवार को सुबह 8 बजे गुलाबबाग से शहर में आवारा घूमने वाले कुत्तों, मवेशियों को भोजन-चारा डालकर इनकी फिडिंग करेंगे-ग्रीष्म ऋतु में उदयपुर एनिमल फीड ने शहर में अब तक 1 हजार से ज्यादा परिंडे बांटे

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक   E–समाचार.इन (जनता  की  आवाज)

INDIAN GOVERNMNET REGISTERED  (RNI -MPHIN /2020 /35645 )

कृपया सभी जन मास्क लगाए।  सोशल दुरी रखे।  बार – बार अपने हाथों को साबुन या सेनेटाइजर साफ़ करिये। भीड़ –भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचिए। अपना और अपने परिवार वालों का अपने बच्चो का ख्याल रखिये।  स्वस्थ्य रहिये –सुरक्षित रहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here