नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के खिलाफ क्षत्रीय समाज का प्रदर्शन

0
52

उदयपुर, 16 सितम्बर / ई समाचार मीडिया / बेतवा भूमि समाचार / देवेंद्र कुमार टांक : महाराणा प्रताप को लेकर दिए नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के बयान के विरोध में गुरुवार को क्षत्रीय संगठन ने विरोध प्रदर्शन किया। मेवाड़ क्षत्रीय महासभा के बैनर तले कलेक्ट्रेट पर सभी संगठन एकत्रित हुए और कटारिया का विरोध किया। रैली और प्रदर्शन में करणी सेना के अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना, छात्र नेता रवींद्र सिंह भाटी, जनता सेना संयोजक रणधीर सिंह भींडर, लाल सिंह झाला सहित कई राजपूत नेता भी शामिल हुए। -करणी सेना अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने कटारिया को विभीषण बताया -नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के खिलाफ क्षत्रीय समाज का प्रदर्शन

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के खिलाफ क्षत्रीय समाज का प्रदर्शन

रैली में कटारिया का जबरदस्त विरोध नजर आया। बता दें कि गुलाबचंद कटारिया के महाराणा प्रताप और राम को लेकर दिए बयानों के विरोध में क्षत्रीय समाज ने विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद कलेक्टर को ज्ञापन देकर कटारिया के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई करने की भी मांग की।प्रदर्शन के दौरान करणी सेना के अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने कहा कि ऐसे विभीषण मेवाड़ की धरती पर नहीं चाहिए, इनका यहीं खत्म होना चाहिए।

महाराणा प्रताप नहीं होते तो आपकी आइडेंटी नहीं होती। मकराना ने पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल की तारीफ करते हुए कहा कि कैलाश मेघवाल क्षत्रीय समाज के लिए बात करता है। वहीं अपने समाज के नेताओं की जबान कहां चली गई। मकराना ने कहा कि कई क्षत्रीय नेता मंच पर थे मगर उन्होंने कटरिया को नहीं टोका। जिस पार्टी को यहां तक पहुंचने के लिए राम का नाम लेना पड़ा। उसी पार्टी का व्यक्ति ये बोले कि हम नहीं होते तो समुद्र में होते। मकराना ने कहा कि तुम्हें उसी गहराई में पहुंचा देंगे।

इस दौरान मकराना ने गुरुवार शाम को उदयपुर आ रहे आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को चुनौती दे डाली। मकराना ने कहा कि पहले महाराणा प्रताप और राम के विचार करके आना नहीं तो हम वहां पहुंचे तो कोई विचार-मंत्रणा नहीं होने देंगे। मकराना ने कटारिया को नेता प्रतिपक्ष से हटाए जाने और भाजपा से निष्कासित करने की मांग की। उन्होंने कहा कि अगर क्षत्रीय समाज अगर आपके पीछे से हट गया तो भाजपा जरुर चली जाएगी। मकराना ने भागवत के दौरे को लेकर कहा कि हम चिंतन शिविर में चिंतन नहीं होने देंगे। पहले घर पर चिंतन करके आना, महाराणा प्रताप पर हमें क्या कदम उठाना है।

कटारिया को मोहम्मद गौरी बताया, राजपूत नेताओं पर बरसे नरूका : विरोध प्रदर्शन के दौरान क्षत्रीय जागृति संस्थान के प्रदेशाध्यक्ष राजेंद्र सिंह नरूका राजपूत नेताओं पर जमकर बरसे। उन्होंने यह तक कह डाला कि समाज, देश और महापुरूषों के विरूद्ध कोई अनर्गल प्रलाप करे तो उसकी जबान को खींचकर प्रत्यंचा बनाकर उसपर छोड़ दें। नरूका ने कटारिया को आज का मोहम्मद गौरी बता दिया। इसके अलावा बीजेपी-कांग्रेस के कई नेताओं पर भी नरूका बरसे। उन्होंने कटारिया और डोटासरा को एक बताया।

नरूका ने राजसमंद सांसद दीया कुमारी को भी आड़े हाथों लेते हुए पैंरों का कंकड़ बताया। नरूका ने कहा कि ये वो लोग हैं जिनके मंच पर रहते हुए कटारिया ने ऐसा बयान दिया था। नरूका ने कटारिया का समर्थन करने के लिए राजेंद्र राठौड़ की भी आलोचना की। वहीं प्रताप सिंह खाचरियावास की तारीफ की।-नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के खिलाफ क्षत्रीय समाज का प्रदर्शन

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक   Eसमाचार.इन (जनता  की  आवाज)

INDIAN GOVERNMNET REGISTERED  (RNI -MPHIN /2020 /35645 )

कृपया सभी जन मास्क लगाए।  सोशल दुरी रखे।  बारबार अपने हाथों को साबुन या सेनेटाइजर साफ़ करिये। भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचिए। अपना और अपने परिवार वालों का अपने बच्चो का ख्याल रखिये।  स्वस्थ्य रहियेसुरक्षित रहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here