ताऊ ते तूफान से गुजरात प्रदेश में हुआ भारी नुकसान

0
113

वेदर रिपोर्ट/ अहमदाबाद/ भावनगर/ गांधीनगर/ की समाचार मीडिया/ देवेंद्र कुमार टाक : मौसम विभाग के द्वारा पिछले सप्ताह दी गई देश में आने वाले भारी और तेज चक्रवात की चेतावनी के चलते देश के कई इलाके इस ताऊते तूफान से प्रभावित हुए हैं, यह तूफान अरब सागर की खाड़ी से उठा एवं कर्नाटक, बैंगलोर, गोवा, पुणे, मुंबई, सूरत, बड़ौदा, भावनगर, अहमदाबाद, कच्छ-भुज, दीव- दमन, खेरवाड़ा, उदयपुर, पाली, सिरोही, माउंट आबू, जोधपुर,जैसलमेर, बीकानेर, पंजाब होते हुए पड़ोसी देशों में भी इसका असर देखा गया है-ताऊ ते तूफान से गुजरात प्रदेश में हुआ भारी नुकसान

ताऊ ते तूफान से गुजरात प्रदेश में हुआ भारी नुकसान

परंतु इस तूफान का राजस्थान में कम असर देखने को मिला है जिससे राजस्थान में इतनी हानि नहीं हुई है, परंतु  केरल, बेंगलुरु, पुणे, गोवा सहित गुजरात के कई जिलों में बहुत हनी का सामना करना पड़ा है, जिसमें जनधन की हानि भी हुई है और माल सामान की भी हानि हुई है, गुजरात के अहमदाबाद, भावनगर, गांधीनगर, बड़ौदा, सूरत जैसे बड़े शहरों में बहुत तेज हवाओं के साथ बारिश हुई हैं जिससे कहीं घर ढह गए हैं, कई जगह पेड़ टूटकर सड़कों पर आ गए हैं, और कई छप्पर उड़ गए हैं

इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने गृह राज्य गुजरात में चक्रवर्ती तूफान  ताऊते के कारण हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए कई प्रभावित इलाकों और निकटवर्ती केंद्र शासित क्षेत्र दीव का हवाई निरीक्षण किया, और इस तूफान के चपेट में आकर हुए नुकसान के लिए प्रधानमंत्री ने 1000 करोड रुपए की सहायता की घोषणा की है

उन्होंने गुजरात समेत अन्य प्रभावित राज्यों के मृतकों के लिए 2-2 लाख रुपए और गंभीर घायलों के लिए 50-50 हजार रुपे की सहायता देने की घोषणा भी की है, मोदी वायुसेना के विमान से भावनगर पहुंचे और वहां से हेलीकॉप्टर में बैठकर हवाई निरीक्षण किया, उन्होंने सर्वाधिक प्रभावित जिलों- अमरेली के जाफराबाद तालुका, भावनगर के महुआ और गिर सोमनाथ के तथा दीव का हवाई दौरा किया, इस दौरान उनके साथ गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी भी उपस्थित है

इसके बाद उन्होंने अहमदाबाद में मुख्यमंत्री रुपाणी और राज्य के वरिष्ठ सचिवों के साथ एक राहत और पुनर्वास कार्यों की समीक्षा बैठक भी की, अधिकारिक सूचना के अनुसार उन्होंने गुजरात में राहत कार्यों के लिए तत्काल 1000 करोड रुपए की केंद्रीय वित्तीय सहायता की घोषणा की, केंद्र सरकार नुकसान का और व्यापक जायजा लेने के लिए मंत्रियों की एक टीम को भी राज्य में भेजेगी और उसके बाद और सहायता दी जाएगी

मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार इस मुश्किल समय में राज्य सरकार के साथ नजदीकी के साथ काम करेगी और प्रभावित क्षेत्रों में आधारभूत संरचनाओं के पुनर्निर्माण और फिर से बहाली के लिए हर संभव सहायता देगी, अपने इस दौरे के दौरान उन्हें राज्य में कोरोना कि स्थिति की भी जानकारी ली, और इसके बचाव के उपायों को लागू करने पर भी जोर दिया

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कोरोना महामारी के बीच आए चक्रवाती तूफान ताऊते ने गुजरात में कहर बरसाया है, गुजरात के 12 जिलों में चक्रवर्ती तूफान ताऊते के कारण करीब 45 लोगों की मौत हो गई, अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि चक्रवात से सबसे बुरी तरह प्रभावित सौराष्ट्र क्षेत्र में 15 लोगों की मौत हो गई, यह तूफान सोमवार रात को अत्यधिक भीषण चक्रवाती तूफान के रूप में राज्य के तट से गुजरा और देर रात 1:30 बजे के आसपास ने राज्य में दस्तक दी

राज्य आपदा अभियान केंद्र के एक अधिकारी ने बताया कि चक्रवाती तूफान के कारण गुजरात के भावनगर और गिर सोमनाथ तटीय जिलों में 8-8 लोगों की मौत हुई है, अधिकारी ने बताया कि अहमदाबाद में-5, खेड़ा में -2, आनंद, वडोदरा, सूरत, वलसाड, राजकोट, नवसारी और पंचमहल जिलों में 1-1 व्यक्ति की मौत हुई है-ताऊ ते तूफान से गुजरात प्रदेश में हुआ भारी नुकसान

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक  E-समाचार.इन (जनता की आवाज)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here