नगर विकास प्रन्यास की सामान्य बैठक में हुए कई महत्त्वपूर्ण निर्णय

0
45

उदयपुर 13 जुलाई। नगर विकास प्रन्यास के अध्यक्ष और जिला कलक्टर ताराचंद मीणा ने कहा है कि नगर विकास प्रन्यास के तहत होने वाले विकास कार्यों में गुणवत्ता का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाए ताकि राज्य सरकार के निर्देशानुसार विकास कार्यों का फायदा आमजनता को मिल सके। कलक्टर मीणा बुधवार को नगर विकास प्रन्यास की सामान्य बैठक की अध्यक्षता करते हुए न्यास सदस्यों व अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे-नगर विकास प्रन्यास की सामान्य बैठक में हुए कई महत्त्वपूर्ण निर्णय

इस दौरान उन्होंने न्यास के माध्यम से होने वाले विभिन्न विकास कार्यों के बारे में विभिन्न 52 बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की और महत्त्वपूर्ण निर्देश दिए। उन्होंने एक-एक विकास कार्य पर तसल्ली से प्रन्यास व विभागीय अधिकारियों से तथ्यात्मक जानकारी ली और इससे समग्र लोकहित की पुष्टि होने पर उनको स्वीकृति दी।

नगर विकास प्रन्यास की सामान्य बैठक में हुए कई महत्त्वपूर्ण निर्णय

चंड़ीगढ़ की तर्ज पर हो पौधरोपण:
बैठक में कलक्टर मीणा का पूरा फोकस विकास कार्यों की गुणवत्ता पर रहा वहीं उन्होंने कहा कि हमारी बनाई सड़क पर व्हाइट लाइन 15 दिनों से ज्यादा क्यों न दिखती ? उन्होंने नेशनल हाईवे की क्वालिटी की व्हाईट लाइन करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान खेल गाँव में एक और हॉकी एस्ट्रोटर्फ बनाने पर भी चर्चा हुई। कलक्टर ने खेलगांव की पहाडि़यों पर जल्द से जल्द पौधरोपण करवाने के निर्देश दिए और कहा कि मानसून के दौरान ही चंडीगढ़ की तरह स्थानीय प्रजातियों के फूलदार पौधे लगाए जावें।

कलक्टर ने रानी रोड़ को हेवी ट्रैफिक से मुक्त कराने की योजना बनाने के लिए परिवहन अधिकारी को निर्देश दिए। इसके साथ ही सूचना केन्द्र के ऑडिटोरियम और पुस्तकालय के जीर्णोद्धार तथा शहर में महान विभूतियों की प्रतिमाओं के क्षतिग्रस्त पेडस्टल में सुधार के लिए भी निर्देश दिए गए।

शहर होगा साफ-सुथरा:
न्यास सचिव श्री बालमुकुन्द असावा ने बताया कि बैठक में विचार विमर्श उपरांत प्रन्यास के विभिन्न क्षेत्रों में घर-घर कचरा संग्रहण, न्यास रूपान्तरित आवासीय कॉलोनियों की सड़कों व नालियों की सफाई एवं न्यास क्षेत्राधिकार के मुख्य मार्गों तथा बरसाती नालों की सफाई का कार्य नियमित रूप से नगर निगम, उदयपुर के माध्यम से करवाये जाने हेतु एम.ओ.यू. निष्पादित किया जाकर 4 करोड़ रुपये की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति जारी की गई। इसके अन्तर्गत एक वर्ष हेतु न्यास द्वारा 4 करोड़ रुपये नगर निगम को उपलब्ध कराये जायेंगे एवं निगम द्वारा न्यास क्षेत्राधिकार की 167 कॉलोनियाँ, सड़कें, नालों इत्यादि की नियमित सफाई का कार्य किया जायेगा।

इन विषयों पर हुए निर्णय:
इसी प्रकार महाराणा भूपाल स्टेडियम में खेलों के विकास कार्यों हेतु राशि रू. 174.99 लाख की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति जारी की गई वहीं गत 3 माह में विभिन्न कॉलोनियों में विकास कार्यों हेतु जारी की गई 10.73 करोड़ रुपयों की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृतियों की पुष्टि की गई। बैठक में स्मार्ट सिटी को न्यास अंशदान की 15 करोड़ रुपयों के हस्तांतरण की स्वीकृति दी गई तथा न्यास क्षेत्राधिकार के विभिन्न विकास कार्यों हेतु 35.20 करोड़ रुपयों की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृतियाँ जारी की गई।

जीर्णोद्धार व सौंदर्यीकरण कार्यों पर 2686.43 लाख की स्वीकृति:
बैठक दौरान न्यास क्षेत्र में विभिन्न जीर्णोद्धार व सौंदर्यीकरण कार्यों पर 2686.43 लाख रुपयों की तकनीकी स्वीकृति प्रदान की गई। इसके तहत ढीकली तालाब से अपस्ट्रीम में राजस्व नाले के निर्माण हेतु 890.43 लाख रुपये, फतहसागर झील में स्थित नेहरू उद्यान के जीर्णोद्धार एवं सौन्दर्यकरण हेतु 596 लाख एवं रानी रोड़ को मॉडल रोड़ के रूप में विकसित करने के लिए 1200 लाख रुपये की तकनीकी स्वीकृति दी गई।  

विभिन्न विकास कार्यों के लिए भूमि का आवंटन:
बैठक में मुख्यमंत्री बजट घोषणा वर्ष 2022-23 की अनुपालना में विभिन्न सरकारी कार्यालयों/संस्थाओं यथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय निर्माण हेतु, साईबर पुलिस स्टेशन, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र दरोली, ग्राम सेवा सहकारी समिति गुड़ली के गोदाम निर्माण हेतु, वैद्यनाथ महादेव वृहत कृषि बहुद्देशीय सहकारी समिति लि. सिसारमा के गोदाम एवं भवन निर्माण हेतु, पुनर्वास गृह योजना एवं सावित्री बाई फूले वाचनालय हेतु निःशुल्क भूमि आवंटन की कार्यवाही की पुष्टि की गई।

इसी प्रकार क्षेत्रीय खेलकूद प्रशिक्षण केन्द्र को गिर्वा ब्लॉक में खेल स्टेडियम हेतु 2,50,000 वर्गफीट भूमि आरक्षित दर पर आवंटित करने का निर्णय लिया गया। बैठक में सचिव बालमुकुन्द असावा, एसई के.आर. मीणा व विपिन जैन, वरिष्ठ नगर नियोजक अरविन्द सिंह कानावत, सहित न्यास के अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे-नगर विकास प्रन्यास की सामान्य बैठक में हुए कई महत्त्वपूर्ण निर्णय

प्रशासन शहरों के संग अभियान 15 जुलाई से -कलक्टर ने नगर निगम पार्षदों के साथ की बैठक,
कहा-आपके सहयोग से ही सफल होगा अभियान
उदयपुर 13 जुलाई।जिला कलक्टर ताराचंद मीणा ने कहा है कि हर पार्षद आम जनता से सीधा जुड़ा होता है और प्रशासन शहरों के संग अभियान आम जनता की समस्याओं के निस्तारण के लिए ही आयोजित हो रहा है, ऐसे में अभियान की सफलता पार्षदों के सहयोेग से ही होगी। कलक्टर मीणा  राज्य सरकार के निर्देशानुसार शहरवासियों की समस्याओं के समाधान के लिए जिले में आगामी 15 जुलाई से आयोजित होने वाले प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत बुधवार को नगर निगम उदयपुर के पार्षदों की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रत्येक वार्ड में आयोजित होने वाले शिविर में अधिकाधिक लोग अपनी समस्याओं को निस्तारित करावें और इसका लाभ लें। उन्होंने बताया कि इन शिविरों में होने वाले कार्यों की जानकारी आमजन तक पहुंचे ताकि वे इसका लाभ उठा सकें। कलक्टर ने कहा कि अभियान की सफल क्रियान्विति के लिए मंत्रालयिक कर्मचारियों का विशेष प्रशिक्षण गुरुवार को ही आयोजित किया जाएगा।  

बैठक दौरान नगर निगम महापौर जीएस टांक ने समस्त पार्षदों को अभियान के तहत होने वाली गतिविधियों का लाभ उठाने का आह्वान किया। उप महापौर पारस सिंघवी ने राज्य सरकार की मंशा अनुरूप अभियान का लाभ दिलाने के लिए मंत्रालयिक वर्ग को विशेष प्रशिक्षण देने की बात कही और कहा कि अभियान में अधिकाधिक पट्टे वितरित किए जावें। बैठक में अभियान के लिए नियुक्त पर्यवेक्षक आरपी शर्मा ने कहा कि सरकार की मंशाओं के अनुरूप अभियान की गतिविधियों से अधिकाधिक लोगों को लाभ दिया जाएगा। उन्होंने हर व्यक्ति को इसमें सकारात्मक सहयोग का आह्वान किया।


बैठक के आरंभ में नगर निगम आयुक्त हिम्मतसिंह बारहठ ने अभियान के तहत होने वाली गतिविधियों के बारे में पावर प्वाईंट प्रस्तुतीकरण के माध्यम से जानकारी दी। बैठक में यूआईटी सचिव बालमुकुंद असावा, स्मार्ट सिटी सीईओ प्रदीपसिंह सांगावत, उपनिदेशक कुशल कोठारी सहित विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

पार्षदों ने दिए सुझाव:
बैठक दौरान बड़ी संख्या में मौजूद पार्षदांे ने अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं के साथ अभियान की गतिविधियों के क्रियान्वयन के संबंध में महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए जिस पर कलक्टर ने संबंधित विभागीय अधिकारियों को कार्यवाही के निर्देश दिए। इस दौरान युआईटी में हेल्प डेस्क स्थापित करने, आयड़ नदी की चौड़ाई जानकारी व सीमांकन करवाने, अमल के कांटे से खेरादीवाड़ा में फिसलन की समस्या, यूआईटी में फाईल के साथ दस्तावेजों को लगाने के लिए चैकलिस्ट बनाने सहित कई प्रकार की समस्याओं को रखा गया जिस पर कलक्टर ने कार्यवाही को आश्वस्त किया।

कलक्टर ने दी राहत:
पार्षदों की मांग पर क्षतिग्रस्त सिटी डिस्पेंसरी की मरम्मत के लिए कलक्टर ने यूआईटी से कार्य करवाने का आश्वासन दिया वहीं नगर की समस्याओं के निराकरण के लिए यूआईटी, नगरनिगम व स्मार्ट सिटी अधिकारियों के साथ पार्षदों की बैठक के लिए भी आश्वस्त किया।

जनआधार में कोटड़ा से पिछड़ा उदयपुर:
बैठक दौरान कलक्टर मीणा ने उदयपुर शहर में जन आधार के पंजीकरण की चिंताजनक स्थिति के बारे में बताया और कहा कि कोटड़ा में शत प्रतिशत जन आधार पंजीकरण हो चुका है और साढ़े छः लाख जनसंख्या वाले उदयपुर शहर में 1 लाख 60 हजार का पंजीकरण शेष है। उन्होंने कहा कि जन आधार के बगैर चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ नहीं दिया जा सकता। उन्होंने शहर में अभी भी लगभग 40 हजार परिवारों को 850 रुपये वार्षिक में 15 लाख का स्वास्थ्य बीमा देने वाली चिंरजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से नहीं जुड़ने को चिंताजनक बताया और पार्षदों से अपील की कि वे ऐसे परिवारों को योजना से जुड़वाएं। इस दौरान सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी ने चिंरजीवी योजना तथा सीपीओ पुनीत शर्मा ने जन आधार नामांकन के बारे में बताया।

उपखंड स्तर पर जनसुनवाई शिविर आज
उदयपुर, 13 जुलाई। राज्य सरकार की ओर से जनभावना के अनुरूप पारदर्शी एवं संवेदनशील वातावरण में आमजन की परिवेदनाओं व समस्याओं की सुनवाई एवं त्वरित समाधान कर उन्हें राहत प्रदान करने के लिए त्रिस्तरीय व्यवस्था की अनुपालना में प्रत्येक माह के दूसरे गुरुवार को आयोजित होने वाले जन सुनवाई शिविरों के लिए जिला कलक्टर ताराचंद मीणा ने निर्देश जारी किए हैं।

कलक्टर मीणा ने बताया कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार उदयपुर जिले में 14 जुलाई को सभी उपखंड मुख्यालय के पंचायत समिति कार्यालय परिसर में सुबह 11 बजे से उपखंड स्तरीय जनसुनवाई शिविरों का आयोजन किया जायेगा। इन शिविरों में उपखंड व ब्लॉक स्तरीय विभागीय अधिकारियों की मौजूदगी में आम जनता की व्यक्तिगत और सामुदायिक समस्याओं को सुना जाएगा और उनके निवारण किया जाएगा।  

सभी उपखण्ड अधिकारियों को दिए निर्देश:
कलक्टर ताराचंद मीणा ने सभी उपखण्ड स्तरीय अधिकारियों को जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित करते हुए अधिक से अधिक लोगों को राहत प्रदान करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा है कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप इस जनसुनवाई कार्यक्रम के बारे में आमजन को जागरूक करते हुए उनकी समस्याओं को मौके पर निस्तारण कर राहत प्रदान करें।

ग्रामीण ओलम्पिक खेलकूद के लिए उदयपुर के रजिस्ट्रेशन फिर शुरू
उदयपुर 13 जुलाई। राजस्थान राज्य क्रीडा परिषद द्वारा आयोजित किए जा रहे दिन राजीव गाधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलकूद प्रतियोगिताओं के लिए उदयपुर जिले के रजिस्ट्रेशन फिर शुरू हो चुके हैं। जिला खेल अधिकारी शकील हुसैन ने बताया कि 29 अगस्त को खेल दिवस से आयोजित हो रही प्रतियोगिता के लिए पूर्व में जिले के कुल 197353 खिलाडि़यों के ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन हुए थे। अब जो खिलाड़ी पंजीयन करने से वंचित रह गये थे उन्हें राजस्थान राज्य क्रीडा परिषद द्वारा 31 जुलाई 2022 तक ऑनलाईन पंजीयन करने हेतु लिंक बनाया  गया है जो वेबसाईट के लिंक ‘डब्ल्यूडब्ल्यू डॉट पंचायत डॉट राजस्थान डॉट जीओवी डॉट इन/खेल महोत्सव/व्यू/प्लेरजिस्ट्रेशनरिमोट‘ पर कबड्डी, टेनिस बाल क्रिकेट, वालीबॉल, हॉकी, शूटिंगबाल (बालक वर्ग), खो-खो(बालिका वर्ग) में अपना पंजीयन कर सकते है।

अल्पसंख्यक ऋण आवेदन की तिथि 15 अगस्त तक बढ़ाई
उदयपुर 13 जुलाई। अल्पसंख्यक मामलात विभाग द्वारा सत्र 2022-23 में अल्पसंख्यक समुदाय के व्यवसायिक एवं शैक्षणिक ऋण हेतु ऑफलाईन आवेदन आमंत्रण की तिथि 15 अगस्त तक बढ़ाई गई है। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी खुशबू शर्मा ने बताया कि व्यवसायिक ऋण के अन्तर्गत राजस्थान अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास सहकारी निगम लिमिटेड, जयपुर के दिशा-निर्देश एवं नियमानुसार 18 से 54 वर्ष की आयु के अल्पसंख्यक समुदायजनों को ऋण वितरित किये जायेगें।

इसमें निर्धारित कलस्टर से सम्बन्धित आवेदन जिसमें परम्परागत एवं वंशानुगत आर्टिजन बुनकर, राष्ट्रीय, राज्य, जिला पर पुरस्कृत हस्तशिल्पी समाज के सबसे वंचित तबके के उद्यमी एवं स्टार्टअप उद्यमी एवं महिलाओं को वरीयता दी जायेगी। शैक्षणिक ऋण के अन्तर्गत व्यवसायिक एवं तकनीकी शिक्षा हेतु 16 से 32 वर्ष तक की आयु के नियमित विद्यार्थियों के लिए ऑफलाईन आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं। उन्होंने बताया कि आवेदक निर्धारित आवेदन अल्पसंख्यक मामलात विभाग, उदयपुर से प्राप्त अंतिम तिथि 15 अगस्त, 2022 तक जमा करवा सकते हैं-नगर विकास प्रन्यास की सामान्य बैठक में हुए कई महत्त्वपूर्ण निर्णय

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक   E–समाचार.इन (जनता  की  आवाज)

INDIAN GOVERNMNET REGISTERED  (RNI -MPHIN /2020 /35645 )

कृपया सभी जन मास्क लगाए।  सोशल दुरी रखे।  बार – बार अपने हाथों को साबुन या सेनेटाइजर साफ़ करिये। भीड़ –भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचिए। अपना और अपने परिवार वालों का  ख्याल रखिये।  स्वस्थ्य रहिये –सुरक्षित रहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here