सरकारी एजेंसियां करेंगी पड़त मदिरा दुकानों का संचालन

0
49
Lots of wine

जयपुर, 3 मई। वित्तीय वर्ष 2022-23 व 2023-24 के लिए मदिरा दुकानों के बंदोबस्त के तहत आबकारी विभाग ने महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए जयपुर शहर जिले में पड़त रही मदिरा दुकानों का संचालन सरकारी एजेंसियों के माध्यम से करने का निर्णय लिया है। मंगलवार को आबकारी आयुक्त श्री प्रकाश राजपुरोहित की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया-सरकारी एजेंसियां करेंगी पड़त मदिरा दुकानों का संचालन

सरकारी एजेंसियां करेंगी पड़त मदिरा दुकानों का संचालन
Lots of wine


जयपुर शहर जिला आबकारी अधिकारी ने बताया कि अभी तक बंदोबस्त से वंचित रही मदिरा दुकानों का संचालन राजस्थान स्टेट बेवरेज कॉरपोरेशन लिमिटेड (आरबीसीएल), गंगानगर शुगर मिल्स (जीएसएम) एवं राजस्थान टूरिज्म डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (आरटीडीसी) के माध्यम से कराया जाएगा। जयपुर शहर जिले की पड़त 97 दुकानों की सूची तैयार कर उक्त एजेंसियों को उपलब्ध करवा दी गई है।

मदिरा दुकानों के संचालन के लिए जीएसएम ने 258 कार्मिकों तथा आरबीसीएल ने 60 कार्मिकों का चयन भी कर लिया है। आरटीडीसी ने और अधिक मदिरा दुकानों के संचालन की अनुमति मांगी है। बैठक में संयुक्त सचिव, वित्त (आबकारी), अतिरिक्त आबकारी आयुक्त जोन जयपुर एवं आरबीसीएल व जीएसएम के अधिकारी उपस्थित रहे।

आधारभूत सुविधाएं जुटाने के लिए कमेटी गठित :

मदिरा दुकानों के संचालन के लिए लोकेशन का निर्धारण करने, दुकान किराए पर लेने व फर्नीचर इत्यादि खरीदने के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी में संबंधित क्षेत्र के आबकारी निरीक्षक, आरबीसीएल अथवा जीएसएम के डिपो प्रबंधक, कनिष्ठ लेखाकार व शॉप प्रबंधक सम्मिलित होंगे। यह कमेटी अगले दो दिन में समस्त लोकेशन के लिए किराए पर दुकानें लेकर लोकेशन स्वीकृत कराते हुए मदिरा दुकानों का संचालन प्रारंभ करना सुनिश्चित करेगी-सरकारी एजेंसियां करेंगी पड़त मदिरा दुकानों का संचालन

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक   E–समाचार.इन (जनता  की  आवाज)

INDIAN GOVERNMNET REGISTERED  (RNI -MPHIN /2020 /35645 )

कृपया सभी जन मास्क लगाए।  सोशल दुरी रखे।  बार – बार अपने हाथों को साबुन या सेनेटाइजर साफ़ करिये। भीड़ –भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचिए। अपना और अपने परिवार वालों का अपने बच्चो का ख्याल रखिये।  स्वस्थ्य रहिये –सुरक्षित रहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here