गॉधीजी ग्राम स्वराज्य एवं सपनो का भारत विषय पर हुई प्रतियोगिता

0
9

उदयपुर, 15 सितंबर। ई समाचार मीडिया / बेतवा भूमि समाचार / देवेंद्र कुमार टांक : राष्ट्रपिता महात्मा गॉधी की 150वीं जयन्ती एवं स्वाधीनता दिवस की 75वीं वर्षगाठ के उपलक्ष्य में राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिला प्रशासन द्वारा प्रायोजित आयोजनों की श्रृखंला में सत्याग्रह सप्ताह के तहत बुधवार को राजकीय मीरा कन्या महाविद्यालय में जिलास्तरीय (अर्न्तमहाविद्यालय) सभाषण प्रतियोगिता हुई।-गॉधीजी ग्राम स्वराज्य एवं सपनो का भारत विषय पर हुई प्रतियोगिता

‘‘गॉधीजी ग्राम स्वराज्य एवं सपनो का भारत‘‘ विषयक इस प्रतियोगिता में राजकीय मीरा कन्या महाविद्यालय के अतिरिक्त जिले के विभिन्न महाविद्यालयों जैसे गुरूनानक, श्रमजीवी, एमबी कॉलेज, उदयपुर स्कूल ऑफ सोशल वर्क, जे.आर.कॉलेज आदि के 20 विद्यार्थियों ने उत्साह से भाग लिया। इसमें सुश्री लावण्या पुरोहित, वीणा राजपुरोहित, निकिता चौधरी, श्वेता वाटेडा, अदिति आमेटा, अरविंद पारगी, मनीषा सेन, फोैजल खान, रिया जैन, हेमांग व्यास, इशा शर्मा, धर्मेन्द्र, नुपुर डांगी, इत्यादि की प्रस्तुति प्रशंसनीय रही।

निष्कर्ष रूप में गॉधी बनने के विचार को जीवन में उतारने के महत्व को बनाया। कार्यक्रम के मुख्य आतिथि महात्मा गॉधी जीवन दर्शन समिति के जिला संयोजक पंकज शर्मा ने गॉधी के सपनो के भारत को साकार करने के लिए युवा विद्यार्थियों को प्रेरित किया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि सहसंयोजक सुधीर जोशी आदि थे। महाविद्यालय संरक्षक डॉ. शशि संाचीहर ने अतिथियों का स्वागत किया समिति प्रभारी डॉ. शिव शर्मा ने विषय प्रवर्तन करते हुए विषय की प्रांसगिकता पर बल दिया।

गॉधीजी ग्राम स्वराज्य एवं सपनो का भारत विषय पर हुई प्रतियोगिता

कार्यक्रम समन्वयक डॉ. नीलम सिंघल ने गांधी के विचारों को आत्मसात कर जीवन को सफल बनाने पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन डॉ. चन्दन बाला मारू ने किया। कार्यक्रम मे ंडॉ. मधु सांखला, डॉ. श्रुति टण्डन, डॉ. तीर्थानन्द मिश्रा, डॉ. चन्द्रशेखर शर्मा एवं डॉ. श्वेता व्यास ने सक्रिय सहभागिता दी।-गॉधीजी ग्राम स्वराज्य एवं सपनो का भारत विषय पर हुई प्रतियोगिता

इधर राजकीय महाविद्यालय गोगुंदा में भी ‘गांधीजी का ग्राम स्वराज और सपनों का भारत‘ विषय पर भाषण और निबंध स्पर्धा हुई। प्राचार्य डॉ.नवीन कुमार झा ने विषयवस्तु पर प्रकाश डालते हुए सार्थकता और प्रासंगिकता को इंगित किया। विद्यार्थी स्वयंसेवक विष्णु खटीक ने ग्राम स्वराज को भारत की आत्मनिर्भरता की कुंजी बताया और उनके विचारों को हमारे राजनीतिक तथा आर्थिक मॉडल का आधार बनाने की आवश्यकता बताई। कार्यक्रम अधिकारी शंकरलाल ढोली ने आभार जताया।

वहीं विद्या भवन गांधी शिक्षा अध्ययन संस्थान, रामगिरी उदयपुर में ‘गांधीजी के ग्राम स्वराज्य एवं सपनों का भारत‘ विषय पर चर्चा रखी गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डॉ. भगवती अहीर ने महात्मा गांधी के आदर्शों को जीवन में अपनाकर आगे बढ़ने को प्रेरित किया। डॉ. कंवराज सुथार ने ग्राम स्वराज्य व स्थानीय स्वशासन के बारे में बताया। इस दौरान गांधी के रामराज्य, गांधी के सिद्धांत, स्वावलंबन, सत्य, अहिंसा, पैतृक व्यवसाय आदि कार्य विचारों पर चर्चा हुई। अंत में आभार डॉ. यतीन कुमार चौबीसा ने जताया।

जिला बाल संरक्षण इकाई की बैठक 22 को :
उदयपुर, 15 सितंबर। जिला बाल संरक्षण इकाई की बैठक 22 सितंबर की दोपहर 12.30 बजे जिला कलक्टर एवं इकाई अध्यक्ष चेतन देवड़ा की अध्यक्षता में आयोजित होगी। बाल अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक ने बताया कि बैठक में बाल श्रमिकों के रेस्क्यू अभियान की समीक्षा व की गई कार्यवाही, पोक्सो एक्ट, बच्चों के स्वास्थ्य संबंधी चर्चा, चाइल्ड राइट्स क्लब का गठन आदि महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा की जाएगी।

2 अक्टूबर को पहुंचेंगे दिल्ली के राजघाट :
निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार साबरमती से शुरू होकर यह साइकिल रैली 18 सितम्बर को शाम 4 बजे ऋषभदेव पहुंचेगी। ऋषभदेव से 19 सितम्बर को सुबह 6 बजे रवाना होकर यह साइकिल रैली उसी दिन शाम 4 बजे फतहसागर की पाल पर पहुंचेगी। अगले दिन 20 सितम्बर, सोमवार को सुबह 6 बजे फतहसागर पाल पर साइकिल रैली के फ्लैग ऑफ सेरेमनी का आयोजन किया जाएगा।

उदयपुर से रवाना होकर 20 सितम्बर को शाम 5 बजे नाथद्वारा पहुंचेगी। अगले दिन 21 सितम्बर को सुबह 6 बजे नाथद्वारा से रवाना होकर शाम 5 बजे राजसमंद के लाम्बोड़ी पहुंचेगी। यहां से अजमेर, जयपुर, शाहजहांपुर होते हुए 2 अक्टूबर को दिल्ली के राजघाट पहुंचकर रैली का समापन होगा। मार्ग में जगह-जगह रैली का स्वागत किया जाएगा।

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक   Eसमाचार.इन (जनता  की  आवाज)

INDIAN GOVERNMNET REGISTERED  (RNI -MPHIN /2020 /35645 )

कृपया सभी जन मास्क लगाए।  सोशल दुरी रखे।  बारबार अपने हाथों को साबुन या सेनेटाइजर साफ़ करिये। भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचिए। अपना और अपने परिवार वालों का अपने बच्चो का ख्याल रखिये।  स्वस्थ्य रहियेसुरक्षित रहिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here