मैगी बनाने वाली कंपनी “नेस्ले” का कबूलनामा उसके प्रोडक्ट अनहेल्दी

0
27

एजेंसी/ नई दिल्ली/ हेल्थ रिपोर्ट/ ई समाचार मीडिया/ देवेंद्र कुमार टाक : भारतीय बाजार में सबसे पसंदीदा जंक फूड प्रोडक्ट में घी फिर चर्चा में आ गई है, हाल ही में आई एक रिपोर्ट में कहा गया था कि मैगी समेत नेस्ले ने खुद ही मान लिया है कि उसके वैश्विक प्रोडक्ट पोर्टफोलियो में शामिल 30% प्रोडक्ट “अनहेल्दी” श्रेणी में आते हैं-मैगी बनाने वाली कंपनी “नेस्ले” का कबूलनामा उसके प्रोडक्ट अनहेल्दी

मैगी बनाने वाली कंपनी “नेस्ले” का कबूलनामा उसके प्रोडक्ट अनहेल्दी

यह प्रोडक्ट विभिन्न देशों के साथ स्वास्थ्य मानकों पर खरे नहीं उतर पाए हैं, एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी के कुछ प्रोडक्ट ऐसे भी हैं, जो पहले हल्दी नहीं थे और उन्हें सुधारने के बाद भी वे अनहेल्दी श्रेणी में ही हैं, किटकैट  चॉकलेट और मैगी बनाने वाली कंपनी नेस्ले इंडिया के प्रवक्ता ने कहा कंपनी उपभोक्ताओं की सेहत का पूरा ध्यान रखती हैं

अगले कुछ दिनों में कंपनी ग्राहकों से अपना जुड़ा बढ़ा रही हैं, उन्होंने कहा हाल में एक इंटरनल रिपोर्ट में नेस्ले के उत्पादों के हेल्दी होने पर सवाल उठाए गए थे,इस पोर्टफोलियो एनालिसिस में कंपनी की सिर्फ आदि वैश्विक बिक्री को शामिल किया गया था, इसमें प्रोडक्ट्स की कई प्रमुख श्रेणियां शामिल नहीं थी

इसी मसले पर इंटरनेशनल बेबी फूड एक्शन नेटवर्क के रीजनल कोऑर्डिनेटर डॉक्टर अरुण गुप्ता कहते हैं : अगर सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियम कड़े हो तो नेस्ले के ज्यादातर उत्पाद अनहेल्दी की श्रेणी में ही आते हैं, जिसको खाने से बच्चों पर कई तरह की बीमारियों का खतरा मंडरा सकता है-मैगी बनाने वाली कंपनी “नेस्ले” का कबूलनामा उसके प्रोडक्ट अनहेल्दी

डॉ अरुण गुप्ता का कहना है कि नेस्ले अपने उत्पाद पर इस बात का जिक्र क्यों नहीं करती कि वह हेल्दी है या अनहेल्दी, दूध के अलावा कोई भी दो उत्पादों से मिलाकर बनाने वाला खाद्य पदार्थ अल्ट्रा प्रोसेस्ड होता है,वैश्विक गाइडलाइन के मुताबिक अल्ट्रा प्रोसेस्ड फूड सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक होता है-यह प्रोडक्ट विभिन्न देशों के साथ स्वास्थ्य मानकों पर खरे नहीं उतर पाए हैं

ऐसे में भारत में बिकने वाले नेस्ले के ज्यादातर उत्पादन अनहेल्दी श्रेणी में आते हैं, लेकिन भारत में अब तक अल्ट्रा प्रोसेस्ड फूड को लेकर अभी तक कोई भी नियमन नहीं है, इसी के वनस्पति यह कंपनियां इसका पूरा फायदा उठा रही हैं एवं लोगों और बच्चों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, सरकार को जल्दी ही पुख्ता कदम उठाने की आवश्यकता है जिससे देश के बच्चों के स्वास्थ्य की रक्षा की जा सके

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक E-समाचार.इन (जनता  की  आवाज)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here