बैंक मैनेजर ने सफाई कर्मी के जरिए ली 15 हजार की घूस- गिरफ्तार

0
67

क्राइम रिपोर्ट/ बांसवाड़ा/ उदयपुर/ ई समाचार मीडिया/ बेतवा भूमि समाचार/ देवेंद्र कुमार टाक : घूसखोरी का एक और मामला सामने आया है जिसमें उदयपुर एसीबी की टीम ने कार्रवाई करते हुए बैंक मैनेजर को रंगे हाथों पकड़ा है बैंक मैनेजर ने बीमा क्लेम देने के बदले परिवादी से मांगी थी रिश्वत-बैंक मैनेजर ने सफाई कर्मी के जरिए ली 15 हजार की घूस- गिरफ्तार

बैंक मैनेजर ने सफाई कर्मी के जरिए ली 15 हजार की घूस- गिरफ्तार

प्रधानमंत्री बीमा योजना के तहत 2 लाख रुपए का क्लेम देने के बदले सफाई कर्मी के जरिए 15 हजार रुपे की घूस लेने के आरोप में यूनियन बैंक के मैनेजर जितेंद्र सांखला को गिरफ्तार किया गया है, दलाल की भूमिका निभाने वाला सफाई कर्मी नरेश कटारा फरार हो गया है, उदयपुर एसीबी ने यह कार्रवाई बांसवाड़ा के नया गांव स्थित यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में की है

एसपी उमेश ओझा ने बताया कि एसीबी में बांसवाड़ा के गणाऊ की नाल निवासी प्रभु डिंडोर ने 25 जून को शिकायत की थी, शिकायत में बताया था कि उसके छोटे भाई सोहन कि पिछले दिनों मौत हो गई थी, नया गांव स्थित यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में प्रधानमंत्री बीमा योजना के तहत 2 लाख रुपए का बीमा था, यह राशि देने के बदले बैंक मैनेजर जितेंद्र ने 25 हजार रुपए की रिश्वत मांगी

बैंक मैनेजर 9 हजार रुपए लेने के बाद 2 लाख रुपए सोहन की पत्नी ललिता के खाते में ट्रांसफर तो करवा चुका था, लेकिन लेन-देन पर रोक लगा दी और बाकी पैसे दिए जाने की मांग कर रहा था, एसीबी ने सत्यापन के बाद रिश्वत देने के लिए सोमवार को प्रभु को बैंक में भेजा मैनेजर ने रुपए सफाई कर्मी नरेश कटारा को देने को कहा

नरेश मैनेजर की बाइक पर प्रभु को बिठाकर गांव से बाहर ले गया और रास्ते में रिश्वत की राशि ली, इसके बाद वह प्रभु को बैंक के पास ही छोड़ कर चला गया, एसीबी ने नरेश की तलाश की तो पता चला कि बैंक के पास ही उसका घर है, ऐसी भी उसके घर पहुंची और 15 हजार रुपए बरामद किए, लेकिन नरेश फरार था और उसका मोबाइल भी बंद था

इसके बाद टीम ने  यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजर जितेंद्र को बैंक से गिरफ्तार कर लिया, यह कार्रवाई एसीबी के डीएसपी हैरम जोशी के नेतृत्व में हेड कांस्टेबल रमेश, मुनीर मोहम्मद, कॉन्स्टेबल टीकाराम, रणधीर सिंह द्वारा की गई-बैंक मैनेजर ने सफाई कर्मी के जरिए ली 15 हजार की घूस- गिरफ्तार

रिपोर्ट : देवेंद्र कुमार टांक E-समाचार.इन (जनता  की  आवाज)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here